Dogecoin क्या है और यह कब और कैसे शुरू हुआ

Dogecoin क्या है और यह कब और कैसे शुरू हुआ आज के इस पोस्ट में हम इसी विषय पर चर्चा करेंगे।

दोस्तों Dogecoin के बारे में जानने से पहले हमें यह जानना जरूरी है की Cryptocurrency क्या है और Cryptocurrency काम कैसे करता है क्योकि Dogecoin Cryptocurrency का ही एक हिस्सा है। 

Cryptocurrency क्या है?

Cryptocurrency Kya Hai

Cryptocurrency एक डिजिटल करेंसी है जिसका इस्तेमाल सामान को खरीदने या किसी सर्विस का use करने में किया जाता है। भारत में अभी बहोत कम ही ऐसे लोग है जो 
Cryptocurrency से सामान की लेन-देन करते है।

Cryptocurrency computer algorithm पर बनी एक currency है जिसके transaction में peer to peer (P2P) network का use होता है। peer to peer network क्या है इसके बारे में जानेंगे इसी पोस्ट में। 

Cryptocurrency पर किसी सरकार, संस्था या बैंक्स का कंट्रोल नहीं रहता है सो आप कितने Cryptocurrency का transaction (चाहे आप Sent किए या Receive किए हो) कर रहे है और आप किससे Cryptocurrency की लेन-देन कर रहे हो यह कुछ भी data सरकार के पास नहीं होता जिसकी वजह से इसके illegal use की संभावनाएं बढ़ जाती है।

Cryptocurrency को हैक करना बहोत मुश्किल होता है जिसकी वजह से इसमें फ्रॉड होने चांस बहोत कम होते है। 

Peer to Peer (P2P) Network क्या है?

Peer to Peer Network

चलिए P2P 
network को समझते है आसान भाषा में। 

अभी आप जिस पोस्ट को पढ़ रहे है उसमे जो Data (Image, Text इत्यादि) है उसे मैंने एक server पर डाला इसके बाद आपने उस Data को पढ़ा या देखा तो इसका मतलब हुआ मेरे और आपके बिच Data का sharing हुआ लेकिन मेरे और आपके बिच Data का direct sharing नहीं हुआ बल्कि बिच में एक server आ गया। 

अगर हम server को हटा दे और मेरे और आपके बिच Data का direct sharing हो तो उसे P2P network बोला जाता है। 

एक P2P network से बहोत सारे सिस्टम connected होते है और डाटा की लेन-देन करते है। 

P2P network को Join करने के लिए दो चीजों की आवशयकता होती है। पहली Internet और दूसरी P2P software की आवशयकता पड़ती है। 

Cryptocurrency की शुरुआत कब हुई थी?

Bitcoin

World की पहली Cryptocurrency थी 
Bitcoin जिसकी शुरुआत साल 2009 में हुई थी। Bitcoin को Satoshi Nakamoto नाम के एक जपानी इंजीनियर ने बनाया था। 

Bitcoin Facts

  • Bitcoin transaction का पहला Receiver Hal Finney थे।
  • Bitcoin से पहली बार समान खरीदने वाले Laszlo Hanyecz थे। इन्होने 10,000 Bitcoin से 2 Papa John's का pizza खरीदा था। 
हमने Cryptocurrency को समझ लिया अब देखते है Dogecoin क्या है?

Dogecoin क्या है?

Dogecoin Kya Hai

Dogecoin 
Bitcoin और बाकि दूसरे Cryptocurrency की तरह एक डिजिटल करेंसी है जिसे आप ना छू सकते है और ना ही देख सकते है। इसका transaction भी peer to peer (P2P) network के जरिए ही होता है। 

 Tesla के ceo एलोन मस्क और रैपर मीक मिल के सपोर्ट के कारन Dogecoin लोगो के बिच काफी फेमस हुआ और काफी Price Hike भी हुआ। 

इन्हे भी पढ़े :

Dogecoin की शुरुआत कब और कैसे हुई?

Dogecoin की शुरुआत साल 2013 में Billy Markus और Jackson Palmer के द्वारा की गई थी। इन दोनों ने Dogecoin की शुरुआत मजाक-मजाक में की थी। 

अगर आप Dogecoin के लोगो को देखे तो इसमें आपको एक कुत्ता दिखेगा यह कुत्ता शिबा इनू नाम के जापानी ब्रीड का कुत्ता है।

Dogecoin के लॉन्च के 30 दिन के अंदर dogecoin.com वेबसाइट पर 10 लाख से ज्यादा लोगो ने visit किया था। 

Dogecoin के फायदे 

  • Dogecoin में फ्रॉड होने का चांस बहोत कम होता है। 
  • इसका transaction fee बहोत कम है। 
  • Security के मामले में यह other digital payment से ज्यादा secure होता है। 

Dogecoin के नुकसान 

  • अगर आप Wallet के ID भूल जाते हो तब उस Wallet वापस पाना संभव नहीं है। जो पैसे आपके wallet में थे उसे भूलना पड़ेगा यानि वो पैसे आपको कभी नहीं मिलने वाले। 
  • Dogecoin में एक बार transaction complete हो जाने के बाद उसे reverse नहीं कर सकते। 
दोस्तों ये जो मैंने Dogecoin के फायदे और नुकसान बताए है वो सिर्फ Dogecoin के फायदे और नुकसान नहीं है बल्कि सरे Cryptocurrency के यही फयदे और नुकसान है। 

Conclusion

दोस्तों Dogecoin से सम्बंधित लगभग सारे चीजों को हमने देख लिए सिर्फ Dogecoin कैसे खरीदें इस टॉपिक को छोड़ कर। Dogecoin खरीदने से पहले काफी सारी चीजों को देखना पड़ता है इसके लिए YouTube videos सही होंगे। किसी पोस्ट से आप ज्यादा कुछ नहीं समझ पाएंगे। सो Dogecoin खरीदने की इच्छा हो तो Cryptocurrency tutorials को YouTube देखे समझे तभी खरीदे वरना बगैर समझे Cryptocurrency खरीदने से आपको नुकसान भी हो सकता है। 

सो दोस्तों आज के इस पोस्ट में हमने जाना Dogecoin क्या है और यह कब और कैसे शुरू हुआ।

Post a Comment

0 Comments