IOS vs Android Which is Better For You - Hindi

आज के समय में Flagship Phones लेना हो तो IOS vs Android Which is Better ( IOS vs Android कौन बेहतर है ) या दोनों में से value for money कौन होगा ऐसे सवाल हमारे मन में जरूर आते है।

अगर 5 - 6 साल पहले की बात करें तो इतना confusion नहीं होता था अगर Flagship Phone लेना है तो दिमाग में एक ही फोन आता था वो था iPhone लेकिन आज के समय में Android Flagship Phones भी काफी बेहतर हो गए है और किसी भी मामले में iPhone से कम नहीं है।


IOS vs Android Which is Better For You
IOS vs Android Which is Better For You


IOS vs Android Which is Better For You


पिछले कुछ सालो में Android Phones के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर दोनों में काफी इम्प्रूवमेंट हुए है लेकिन iPhone में उतना ज्यादा इम्प्रूवमेंट देखने को नहीं मिला।

Example :-

Android Phones में नौच आया फिर धीरे - धीरे नौच छोटा हुआ और अब Android Flagship Phones से नौच पूरी तरह से हट गया अब नौच के स्थान पर पंच होल मिलता है। iPhone को देखे तो iPhone X सीरीज में जैसा नौच मिलता था वही अभी तक चला आ रहा है कोई बदलाव नहीं हुआ। यह एक उदाहरण था ऐसे बहोत से इम्प्रूवमेंट है जो Android Phones में हुए पर iPhone में नहीं।


इन्हे भी पढ़े 
Samsung Galaxy M21 Review
फोटो का बैकग्राउंड बदले मात्र 1 मिनट में 


 

आज के इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप खुद तय कर पाएंगे की Android और iPhone दोनों में से कौन सा फोन खरीदना आपके लिए बेहतर होगा।


Why Android is better than IOS ( क्यों Android IOS से बेहतर है )



1. Customization


फोन में एक ही लुक को 2 से 4 महीने देख देख कर हम ऊब जाते है और फोन के सॉफ्टवेयर में कुछ ऐसा परिवर्त्तन करना चाहते जिससे फोन देखने में आकर्षक लगे इसके लिए थीम बदलते है, फॉन्ट बदलते है, एप्प का आइकॉन बदलते है, फोन में Widget लगते है, Launcher बदलते है, वॉलपेपर बदलते है, एप्प आइकॉन को एक से दूसरी जगह रखते है, लॉक स्क्रीन वॉलपेपर बदलते है इत्यादि इसी को Software Customization बोला जाता है। हमलोग Software Customization को आम बोलचाल की भाषा में Customization ही बोलते है।

Android phone में ये सभी Customization हम कर सकते है लेकिन iPhone में Customization के नाम पर सिर्फ वॉलपेपर बदल सकते है और एप्प आइकॉन को एक से दूसरी जगह रख सकते है। Customization के दृष्टिकोण से Android phone बेहतर है।


2. File Management


Android phone में File Management का ऑप्शन होता है लेकिन iPhone में नहीं होता। iPhone में कोई डाटा डाउनलोड करते है तो वह डाटा जिस एप्प से डाउनलोड हुआ है उसी एप्प में रहेगा आप डाटा को मूव नहीं कर सकते या उस डाटा को आप दूसरे एप्प से नहीं देख सकते जिस एप्प से डाउनलोड हुआ है उसी एप्प से देखना होगा। यह सिर्फ डाटा डाउनलोड करने पर ही नहीं बल्कि शेयर करने या कंप्यूटर से कॉपी करने पर भी यही होता है। जिस एप्प से डाटा शेयर हुआ है या कंप्यूटर से जिस एप्प में डाटा कॉपी हुआ है उसी एप्प में उसे देख सकते है।


File Manager

Android phone में फाइल मैनेजर नाम का एक एप्प होता है जिससे हम File Management करते है लेकिन यह एप्प iPhone में नहीं होता। फाइल मैनेजर एप्प iPhone में भी आ सकता है और Android की तरह File Management भी कर सकते है लेकिन इसके लिए iPhone को jailbreak करना होगा।


Advantages of jail break ( jail break करने का फायदा )

iPhone को jail break करने के बाद iPhone में unknown sources से एप्लीकेशन इनस्टॉल कर सकते है, अपने अनुरूप फाइल को मैनेज कर सकते है, Pre-installed Apps को Uninstall कर सकते है, Control Center को Customize कर सकते है इत्यादि। ये सभी चीजे देखने के बाद लग रहा होगा क्यू ना iPhone लेकर उसे jail break कर दे लेकिन jail break करने से काफी नुकशान भी होता है नया iPhone को jail break करने का बिलकुल भी ना सोचे।


Disadvantages of jail break ( jail break करने का नुकशान )

iPhone को jail break करने के बाद Apple का सपोर्ट बंद हो जयेगा जिससे सिक्योरिटी issue आ सकता है, अगर iPhone warranty में है तो warranty खत्म हो जायेगा, अगर आपका फोन हैक होता है और डाटा चोरी होता है तो Apple जिम्मेदारी नहीं लेगा इत्यादि।

Device Option की बात करें तो मार्केट में Android Operating System पर चलने वाले फोन्स 5 हजार रुपए से लेकर 1 लाख रुपए तक के कीमत में उपलब्ध है वही iPhone की शुरुआती कीमत ही 40 से 50 हजार रुपए होता है।


Device Option

iPhone 5 या iPhone 6 20 से 30 हजार रुपए में मिल जाता है लेकिन आज के समय में iPhone 8 से निचे का iPhone लेने से अच्छा है Android phone लेना। अगर कम कीमत में iPhone लेने की इच्छा हो तो iPhone SE 2 बहोत ही बेहतर फोन है। अभी कुछ ही दिनों पहले यह फोन लॉन्च हुआ है इस फोन का भारत में कीमत करीब 40 हजार रुपए है।

Android Operating System पर चलने वाले फोन बहोत साड़ी कम्पनियाँ बनती है लेकिन IOS पर चलने वाली फोन सिर्फ Apple ही बनती है जिसकी वजह से iPhone की कुछ चीजे जो पसंद नहीं आती फिर भी मजबूरन वही फोन लेना पड़ता है। Android में ऐसा नहीं होता आपको जो नहीं पसंद उसे मजबूरन नहीं लेना पड़ता क्यूकि Android में बहोत सारे विकल्प मौजूद है।

जैसे :- iPhone में अभी तक Lightning ports ही मिलता है पर मैं USB-C port वाला फोन लेना चाहता हु लेकिन मुझे IOS पर चलने वाला फोन ही लेना है तो मेरे पास iPhone के आलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है और मजबूरन मुझे Lightning ports से ही काम चलना पड़ेगा।


4. File Sharing


Android phone में Bluetooth, NFC, WIFI Direct, Share it इत्यादि से फाइल को शेयर कर सकते है या कंप्यूटर में डाटा केबल लगाकर फाइल शेयर कर सकते है। Android phone में फाइल शेयर करना काफी आसान है लेकिन IOS में फाइल शेयर करने के इतने विकल्प नहीं मिलते और जो भी कुछ विकल्प मिलते है उनसे फाइल शेयर करना आसान नहीं होता।

File Sharing

iPhone में भी Bluetooth और NFC मिलता है लेकिन Bluetooth का उपयोग सिर्फ Bluetooth Device से कनेक्ट करने में होता है Bluetooth से फाइल शेयर नहीं होता वही NFC का उपयोग सिर्फ Apple Pay एप्प में होता है। iPhone में NFC का उपयोग किसी दूसरे एप्प में या फाइल शेयर करने में नहीं कर सकते।


5. OTG Support

OTG Support

Android phone में OTG की मदद से keyboard, mouse, pen drive, printer इत्यादि Device को कनेक्ट कर उपयोग कर सकते है। iPhone में भी OTG से pen drive का उपयोग कर सकते है लेकिन iPhone के लिए जो pen drive मिलता है वह नार्मल pen drive के मुकाबले काफी महँगा होता है। iPhone में pen drive के आलावे किसी दूसरे डिवाइस का उपयोग नहीं कर सकते।


6. Call Recording



Call Recording

Android में कॉल रिकॉर्डिंग करने के लिए बहोत सारे एप्लीकेशन मौजूद है इसके आलावा अभी लगभग सभी एंड्राइड स्मार्टफोन निर्माता कम्पनियाँ अपने फोन में built-in recorder दे रहे है जिससे एप्लीकेशन डाउनलोड किए बगैर कॉल रिकॉर्डिंग कर सकते है। iPhone में आप किसी भी तरीके से कॉल रिकॉर्डिंग नहीं कर सकते है।


यह भी पढ़े :- फिल्म या वेब सीरीज कैसे डाउनलोड करते है नहीं पता तो इस पोस्ट को पढ़ने के बाद चुटकियों में फिल्म डाउनलोड कर पाएंगे

यहाँ तक हमने देखा Android phone iPhone से बेहतर क्यों है अब हम देखेंगे iPhone Android phone से बेहतर कैसे है।


Why IOS is Better than Android ( क्यों IOS Android से बेहतर है )



1. Optimization


जैसा की हम सभी लोग जानते है Apple हार्डवेयर का design खुद करता है और सॉफ्टवेयर भी खुद ही बनता है जिससे सॉफ्टवेयर बनाते वक्त उन्हें पता होता है यह सॉफ्टवेयर किस हार्डवेयर में डलने वाला है उसी हार्डवेयर के अनुसार सॉफ्टवेयर को optimize किया जाता है इससे हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बिच अच्छी बॉन्डिंग होती है।

Android किसी एक फोन के लिए नहीं बनता जिससे सॉफ्टवेयर बनाते वक्त पता नहीं होता यह सॉफ्टवेयर किस हार्डवेयर में डलने वाला है जिससे हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बिच बॉन्डिंग अच्छे से नहीं बन पाती।

iPhone का specification Android phone के specification से कम होते हुए भी iPhone का performance Android phone के मुकाबले काफी बेहतर होता है। iPhone का 4 Gb रैम Android phone के 8 Gb रैम से भी बेहतर perform करता है। iPhone बहोत कम हैंग होता है वैसे Android के Flagship Phone भी ना के बराबर हैंग होता है लेकिन mid range phone और बजट फोन में हैंगिंग इशू देखने को मिलते है। गेमिंग में भी iPhone Android के मुकाबले बेहतर perform करता है। iPhone का बैटरी छोटा होते हुए भी Android phone से ज्यादा बैकअप देता है। ये सभी चीजें Optimization के कारन होता है।

Performance के मामले में Android Flagship Phones भी कम नहीं है। Optimization अच्छा ना हो लेकिन पिछले कुछ सालो में फोन के specification को बढ़ा कर परफॉरमेंस को काफी हद तक बढ़ाया गया है लेकिन आज भी iPhone Android Flagship Phones से बेहतर परफॉर्म करता है।

नोट :- अगर आप भी सोचते है Apple हार्डवेयर ( जैसे :- प्रोसेसर, रैम, डिस्प्ले इत्यादि ) खुद बनाती है तो आप गलत है। Apple दूसरे कंपनी से हार्डवेयर बनवाती है खुद नहीं बनती।


2. Software Update


पिछले कुछ सालो में Android में Software Update देने में सुधार हुआ है लेकिन आज भी Software Update के मामले में IOS बेहतर है।


Software Update

जब भी कोई नया Android लॉन्च होता है तो आपके फोन में कब Software Update आएगा कुछ कहा नहीं जा सकता किसी किसी फोन में Software Update आने में 1 साल भी लग जाते है लेकिन नया IOS लॉन्च होने के कुछ ही दिनों बाद एक साथ सभी फोन में Software Update आ जाता है।


3. Security


Security के मामले में IOS आज भी android से काफी बेहतर है। Android 10 में पिछले सभी Android के मुकाबले security को काफी इम्प्रूव किया गया है जिससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है की आने वाले दिनों में Android phone में अच्छी security देखने को मिल सकती है लेकिन अभी iPhone की security बेहतर है।


Security

हमने File Management में चर्चा की थी iPhone में जिस एप्प से डाटा डाउनलोड होता है उसी एप्प से डेटा को देखना पड़ता है ऐसा security के कारण किया जाता है। मान लेते हमने ऐसा डाटा डाउनलोड किया जिसमे malware virus हो अगर यह virus Android phone डाउनलोड होता है तो यह आपके पुरे फोन का डाटा चुरा सकता है लेकिन यह virus iPhone में डाउनलोड होता है तो जिस एप्प से यह virus डाउनलोड हुआ है उसी एप्प का डाटा चुरा सकता है पुरे फोन का नहीं। ऐसी बहोत की चीजे है जो iPhone को Security के मामले में बेहतर बनाती है।

Android में सबसे बेहतर security Samsung के फोन्स में मिलती है। Samsung के फोन्स में secure folder नाम का एक फीचर होता है जिसमे महत्वपूर्ण डाटा डाल सकते है। secure folder से डाटा चोरी होना लगभग नामुमकिन सा होता है जबतक हम गलती ना करे। Samsung दूसरे सभी android phone के मुकाबले बेहतर सिक्योरिटी देता है लेकिन iPhone में Samsung से बेहतर security मिलता है।


4. App Quality



App Quality

IOS की App Quality Android के मुकाबले बेहतर होती है। हम गूगल के एप्लीकेशन को ही देखें तो you tube एप्लीकेशन में Android से ज्यादा फीचर IOS में मिलता है। you tube गूगल का एप्लीकेशन है और गूगल का ही Android है फिर भी Android से ज्यादा फीचर IOS में मिलता है तो आप इसी से अंदाजा लगा सकते है दूसरी कंपनी के एप्लीकेशन में क्या होता होगा। App Quality के मामले में IOS बेहतर है।


5. Ecosystem



Ecosystem

IOS का Ecosystem लाजवाब है। Ecosystem IOS के बेहतरीन खासियतों में से एक है। आप अपने iPhone, iPad और macbook तीनो को एक ही Apple ID से login करते है तो iPhone के डाटा को iPad और macbook में देख सकते है और iPad के डाटा को iPhone और macbook में देख सकते है कहने का मतलब है तीनो डिवाइस के डाटा को तीनो डिवाइस में देख सकते है और डाटा का उपयोग कर सकते है बगैर वायर कनेक्ट किए।

जैसे मेरा एक फोटो iPhone में है और मैं macbook से फेसबुक चला रहा हु और मुझे जो फोटो iPhone में है उसे फेसबुक पर अपलोड करना है तो मैं macbook से उस फोटो को देख भी सकता हु और फेसबुक पर अपलोड भी कर सकता हु इसी को Ecosystem बोला जाता है। ऐसा Ecosystem android में नहीं मिलता।


यह भी पढ़े :- इस एप्प से प्रोफेसनल रिज्यूमे बनाए और आसानी से नौकरी पाए।

Final Word | IOS vs Android Which is Better For You


कुछ मामलों में एंड्राइड बेहतर है तो कुछ मामलों में IOS बेहतर है अब आपको तय करना है दोनों में से किस ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलने वाला फोन खरीदना है।आपको फोन में क्या क्या चाहिए या आप किस वजह से फोन खरीद रहे है इसी को ध्यान में रखते हुए तय करें आपको दोनों में से कौन सा फोन खरीदना चाहिए।

मैं आशा करता हु आप IOS vs Android में कौन बेहतर है समझ गए होंगे। पोस्ट में कुछ भी ऐसा जो आपको समझ में नहीं आया हो या पोस्ट में कुछ भी ऐसा दिखा हो जिसे मुझे सुधार करना चाहिए कमेंट कर जरूर बताए मैं सुधर करने की कोशिस जरूर करूँगा।

कैसा लगा IOS vs Android Which is Better पोस्ट कमेंट कर जरूर बताए। स्मार्टफोन, कंप्यूटर, SEO और डिजिटल मार्केटिंग से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो आप हमारे टेलीग्राम ग्रुप में पूछ सकते है।

टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए यहाँ क्लिक करे

टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन करने के लिए यहाँ क्लिक करे

पोस्ट को पढ़ने के लिए शुक्रिया।

Post a comment

0 Comments