Processor knowledge | किसी के बातो में न आइये खुद चुनिए अपने लिए बेस्ट प्रोसेसर

टेक्नोलॉजी का विकास बहोत तेजी से हुआ है और खासकर स्मार्टफोन टेक्नोलॉजी का विकास और भी तेजी से हुआ है। आज स्मार्टफोन एक वस्तु नहीं रह गया है बल्कि यह हमारे जीवन का हिस्सा बन चूका है। ऐसे समय में आप एक स्मार्टफोन लेते हो उस स्मार्टफोन में आप गेमिंग अच्छे से नहीं कर पा रहे हो एप्प को ओपन क्लोज होने में समय लग रहा है या फिर कोई एप्प क्रैश कर जा रहा है या ओपन नहीं हो रहा है तो ऐसा फोन आपके किसी काम का नहीं है यानि यह फोन आपके लिए बेकार है। ये सारी कामे जैसे गेमिंग एप्प ओपन क्लोज टाइमिंग ये सभी चीजे processor के ऊपर डिपेंड करता है अगर processor अच्छा है तो सारी कामे बहोत अच्छे से हो जाएँगी और समय बहोत काम लगेगा अगर processor अच्छा नहीं है इन कामो को पूरा करने में काफी समय लग जायेगा।


processor भ्रम


आज प्रोसेसर को लेकर हमलोगो के बिच काफी भ्रम फैला हुआ है। प्रोसेसर का क्लॉक स्पीड अच्छा है तो प्रोसेसर अच्छा होगा। कुछ लोगो का ये मानना है की जितने ज्यादा कोर होंगे प्रोसेसर उतना ही अच्छा होगा और कुछ लोगो का ये भी मानना है की प्रोसेसर का गेट जितना पतला होगा प्रोसेसर उतना ही अच्छा होगा। ये भ्रम किसी और ने नहीं स्मार्टफोन कम्पनियो ने फैलाया है ताकि ग्राहक को बेबकूफ बनाकर अपना फोन बेच सके। इन्होने एक और भ्रम फैला रखा है कैमरा मेगापिक्सल को लेकर इसपर हम अगले पोस्ट में बात करेंगे। 


Processor knowledge

Processor क्या है ?

Processor के पार्ट्स या processor कैसे काम करता है इसके बारे में जानने से पहले हमें यह जानना होगा की processor हमारे फोन या लैपटॉप में करता क्या है ? 

Processor इसके नाम को देखने से ही पता चलता है की इसका काम प्रोसेस करना होता है। मान लो आपको कोई एप्प ओपन करना है तो आप एप्प पर क्लिक करोगे और वह एप्प ओपन हो जायेगा। क्या आपको पता है आपके एप्प पर क्लिक करने और एप्प को ओपन होने के बिच क्या हुआ ? नहीं तो मै आपको बताता हु। जब आप अपने फोन की स्क्रीन पर देखते है तो स्क्रीन पर जो भी चीजे होती है वो सभी आपके भाषा में होती है। आप स्क्रीन पर पढ़ कर अपनी जरूरत के अनुसार किसी एप्प पर क्लिक करते है आपके क्लिक करने के बाद आपका कमाण्ड आपके भाषा में प्रोसेसर के पास पहुँचता है प्रोसेसर उस कमाण्ड को कम्प्यूटर की भाषा ( बाइनरी डिजिट ) में बदलता है और आपके कमाण्ड को सर्च करता है और डाटा मिलते ही वह उस डाटा को आपके भाषा में परिवर्तित करके आपके सामने रख देता है। तो आपके एप्प पर क्लिक करने और एप्प को ओपन होने के बिच क्या होता है आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे। 

 clock speed या clock rate या CPU Frequency क्या होता है ?

Clock speed को clock rate या CPU Frequency भी कहते है। आपको पता होगा की प्रोसेसर के अंदर इंटीग्रेटेड सर्किट जिसे हम शॉर्टफॉर्म में IC कहते है लगा होता है। IC हमारे डाटा को फ्लो करता है यानि IC हमारे डाटा को आगे बढ़ाता है। IC से डाटा को आगे बढ़ाने के लिए IC को ऑन ऑफ ऑन ऑफ करना परता है इसे ऑन ऑफ करने के लिए प्रोसेसर में एक डिवाइस लगा होता है जिसे oscillator कहा जाता है। oscillator जब IC को एक बार ऑन और एक बार ऑफ करता है तो उसे 1 क्लॉक साईकल कहा जाता है। क्लॉक स्पीड को GHz ( गीगाहर्ट्ज ) और MHz ( मेगाहर्ट्ज ) में मापा जाता है। 1 GHz का मतलब होता है 1 सेकेंड में 1 बिलियन क्लॉक साइकिल पूरा किया गया यानि IC 1 सेकेंड में 1 बिलियन बार ऑन हुआ और 1 बिलियन बार ऑफ हुआ। और 1 MHz का मतलब होता है 1 सेकेंड में 1 मिलियन क्लॉक साइकिल पूरा किया गया यानि IC 1 सेकेंड में 1 मिलियन बार ऑन हुआ और 1 मिलियन बार ऑफ हुआ। क्लॉक स्पीड जितना ज्यादा होगा IC से डाटा उतना ही जल्दी फ्लो करेगा और हमारा काम जल्दी होगा। आपको अभी तक पढ़ने पर ऐसा लग रहा होगा की क्लॉक स्पीड जितना ज्यादा होगा आपका प्रोसेसर उतना ही फास्ट होगा लेकिन ऐसा नहीं है इसका एक दूसरा पहलु भी है जिसे हमें समझना होगा। 

दूसरा पहलु 

A और B आपके पास दो प्रोसेसर है और दोनों प्रोसेसर का क्लॉक स्पीड समान है। मान लीजिए B का IC A के IC  के मुकाबले 10 गुणा ज्यादा डाटा को फ्लो करता है इसका मतलब हुआ जो काम B 1 क्लॉक साईकल में पूरा करेगा वही काम A 10 क्लॉक साईकल में पूरा करेगा चलिए इसे सिम्पल भाषा में समझते है 

एक मॉल है जिसके ग्राउंड फ्लोर पर 1000 आदमी है और सभी को टॉप फ्लोर पर जाना है। उस मॉल में A और B दो लिफ्ट लगे है A  10 आदमी को एकसाथ ऊपर लेकर जा सकता और B 50 आदमी को एकसाथ ऊपर लेकर जा सकता है। दोनों का ऊपर निचे करने का स्पीड समान है या फिर B के ऊपर निचे करने का स्पीड A के मुकाबले आधा है तो कौन सा लिफ्ट ज्यादा आदमी को ऊपर लेकर जायेगा ? इसका उतर होगा B क्योकि B एक साथ ज्यादा आदमी को ऊपर लेकर जा रहा है। लिफ्ट A और B हमारा IC है और ऊपर निचे आने जाने का स्पीड हमारा क्लॉक स्पीड है। इससे आप समझ गए होंगे ज्यादा डाटा फ्लो करने वाला IC कम क्लॉक स्पीड में भी ज्यादा क्लॉक स्पीड वाले IC से कैसे बेटर है। 


Core क्या है ?

इसे हम सिंपल भाषा में समझते है। मान लीजिए आपको एक काम मिला आपको अकेला उस काम को करने में ज्यादा समय लगेगा तो आप अपने एक दोस्त को बुला लेते है इससे आपका काम जल्दी समाप्त हो जायेगा। अगर 4 मिलकर उस काम को करे तो काम और भी जल्दी समाप्त हो जायेगा। जितना ज्यादा आदमी मिलकर काम करेगा काम उतना ही जल्दी समाप्त होगा। प्रोसेसर में भी ऐसा ही होता है जितने ज्यादा कोर होंगे प्रोसेसर आपका काम उतना ही जल्दी पूरा करके देगा। इसमें भी एक दूसरा पहलु है 

दूसरा पहलु 

एक काम को करने के लिए 90 साल के 10 बुजुर्ग जिनका हाथ पाँव सही से काम नहीं करता उनको लगाया जाता है। तो वो 10 बुजुर्ग एक 20 साल के युवा के मुकाबले बहोत कम काम कर पाएंगे। ऐसा ही होता है प्रोसेसर में भी पुराने टेक्नोलॉजी पर बना ओक्टा कोर प्रोसेसर नए टेक्नोलॉजी पर बने सिंगल कोर प्रोसेसर के मुकाबले स्लो होता है। 


Processor architecture क्या है ?

जैसे हम घर बनवाने से पहले घर का नक्सा बनवाते है वैसे ही प्रोसेसर के बनने से पहले प्रोसेसर का नक्सा बनता है जिसे हम Processor architecture कहते है यह जितना लेटेस्ट होगा हमारा प्रोसेसर उतना ही अच्छा होगा। एक सिम्पल उदाहरण से समझ लेते है। आपने 10 साल पहले घर बनवाया घर बनवाने से पहले आपने किसी कंपनी से घर का नक्सा बनवाया और अब आप घर को तोड़कर नया घर बनवाने की सोच रहे है और आप उसी कंपनी के पास नक्सा बनवाने जा रहे है जिससे आपने पहले बनवाया था तो आप देखेंगे 10 साल पहले के मुकाबले आज के नक्से में बहोत इम्प्रूवमेंट देखने को मिलेंगे उतना ही जमीन में अब ज्यादा कमरे बनेंगे। 

अभी जितनी भी कम्पनिया Processor architecture बनाती है उनमे सबसे ज्यादा फेमस कम्पनी है ARM आपने सुना होगा Cortex A53, Cortex A54, Cortex A70, Cortex A73 इत्यादि नाम ये सभी Processor architecture है जिसे ARM बनती है। यह जितना लेटेस्ट होगा आपका प्रोसेसर उतना ही फास्ट होगा। Cortex A70 के मुकाबले Cortex A73 ज्यादा फास्ट होगा। 

Processor Gate क्या होता है ?

आपने सुना होगा यह प्रोसेसर 14 नैनोमीटर टेक्नोलॉजी पर बना है। यह प्रोसेसर 10 नैनोमीटर टेक्नोलॉजी पर बना हुआ है। तो ये नैनोमीटर टेक्नोलॉजी क्या होता है ?

जैसा की हम जानते है प्रोसेसर में हजारो लाखो ट्रांज़िस्टर लगे होते है 


Processor transistor

ये ट्रांजिस्टर जहाँ लगे होते है उसे ट्रांजिस्टर गेट बोला जाता है 


processor gate

आप फोटो में देख सकते है पहला फोटो में भूरा रंग 3 खम्भा और दूसरा फोटो में 2 खम्भा दिख रहा होगा। इन खम्भों की जो चौड़ाई होती है उसे नैनोमीटर में मापा जाता है। यह जितनी पतली होगी पावर उतना ही कम कंज्यूम होगा और बैटरी बैकअप ज्यादा देखने को मिलेगी। 


दोस्तों मै आसा करता हु की आप Processor को अच्छी तरह से समझ गए होंगे। जितना हो सकता था मैंने Processor को आसान भाषा में समझाने की कोशिस की अगर आपको इनमे से कोई भी चीज समझ न आई हो तो कृप्या कमेंट में जरूर लिखे की आपको इनमे से क्या समझ नहीं आया। 

Post a comment

1 Comments

  1. Processor ka gyan aapne bahot acche se diya, thanks

    ReplyDelete

Please do not enter any spam link in the comment box